Uttar Pradesh Shadi Anudan Yojana 2021: Online Apply

UP Shadi Anudan Yojana 2021

UP Shadi/Vivah Anudan Yojana |UP Vivah Anudan Yojana 2021 | उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना | online application |

UP Shadi/Vivah Anudan Yojana 2021 के लिए Online Apply कैसे करते हैं ? उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना क्या है (UP Shadi Anudan Yojana in Hindi), उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना का उद्देश्य, उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना के लिए योग्यत और उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना के लिए ऑनलाइन अप्लाई कैसे करे (UP Vivah Anudan Yojana Ke Liye Online Apply Kaise Kare) इस सब के बारेमे विस्तार से समझने वाले हैं.

आवेदन करें

किसी भी पिता के लिए अपनी बेटी की शादी धूम-धाम से करना एक सपना होता हैं। लेकिन अगर जेब मे पैसा ना हो तो यह एक सपना ही रह जाता हैं। आर्थिक रूप से मजबूत व्यक्ति अपनी बेटी की शादी धूमधाम से करता हैं लेकिन जो व्यक्ति आर्थिक रूप से कमजोर होता है वह अपनी बेटी की शादी नही कर पाता। इसी बात को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश के मुखयमंती योगी आदित्यनाथ ने ‘उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना’ शुरू की हैं।

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना क्या हैं?

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा शुरू की गई एक योजना हैं। हर पिता चाहता है कि उसकी बेटी की शादी धूमधाम से हो और हर भाई चाहता है कि उसकी बहन की शादी में कोई कमी ना रहे लेकिन आर्थिक स्थिति कमजोर होने की वजह से अक्सर ऐसा नहीं हो पाता। कई बार लड़कियों की शादी समय पर नहीं हो पाती जिससे बाद में परिवार में काफी दुविधा पैदा होती है। यही कारण हैं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना की शुरुआत की। उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना के अंतगर्त 18 वर्ष से अधिक उम्र की लड़की के विवाह के लिए राज्य सरकार की तरफ से 51 हजार रुपयो की आर्थिक सहायता दी जाएगी।

Up oonline parcha

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना का फायदा उठाने के लिए विवाह करने वाली लड़की की उम्र 18 साल या फिर उससे अधिक हो और लड़के की उम्र 21 साल या उससे अधिक होनी चाहिए। उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना के अंतर्गत एक परिवार से अधिकतम दो लड़कियों के विवाह के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। इस योजना का लाभ अनुसूचित जाति,अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक, आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग के परिवार उठाम सकते हैं। इस योजना के रजिस्ट्रेशन करने के बाद लड़कियों की शादी के लिए सरकार की तरफ से दी जाने वाली आर्थिक सहायता सीधे लड़कियों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाती है। अगर उत्तर प्रदेश में कोई लड़की कोर्ट मैरिज कर रही हो तो वह भी किसी योजना का लाभ उठा सकती है।

उदेश्य

उत्तर प्रदेश में देश की जनसंख्या का एक बड़ा भाग निवास करता हैं। इनमे से काफी आर्थिक रूप से मजबूत हैं तो लाखों कमजोर भी हैं। काफी सारे परिवार ऐसे होते हैं जो आर्थिक रूप से कमजोर होते हैं लेकिन समाज के डर के कारण वह अपनी बेटी की शादी में शादी में कर्ज लेकर काफी पैसा खर्च कर देते हैं। काफी सारे लोगो को कर्ज की सुविधा भी नही मिल पाती तो ऐसे में वह समय पर अपनी बेटी की शादी नही कर पाते और मानसिक बीमारियों का शिकार बन जाते हैं।

इन आर्थिक रूप से कमजोर लोगो की मदद करने के लिए ही उत्तर प्रदेश सरकार ने ‘उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना’ (UP Shadi Anudan Yojana in Hindi) शुरू की हैं। इस योजना के अंतगर्त आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को अपनी बेटी की शादी के लिए 51 हजार रुपये की सहायता दी जाएगी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य गृबी परिवारों की अपनी बेटी की शादी करने के लिए आर्थिक सहायता करना हैं।

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना के लिए पात्रताए

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना का लाभ उत्तर प्रदेश में रहने वाला कोई भी आर्थिक रूप से कमजोर परिवार को उठा सकता है। इस योजना के अंतर्गत एक परिवार की अधिकतम दो लड़कियों की शादी के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। सरकार ने उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना के लिए कुछ पात्रता निर्धारित की है, जो कुछ इस प्रकार हैं:

  • उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना का लाभ उठाने वाला आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई नागरिक होना चाहिए।
  • उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना का लाभ केवल अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक, पिछड़ा वर्ग, आर्थिक रूप से कमज़ोर सामान्य वर्ग के लोग उठा सकेंगे।
  • इस योजना का लाभ वहीं आवेदक उठा सकेंगे जिनके परिवार की वार्षिक इनकम सीमित हो। यह आय ग्रामीण क्षेत्र के लिए 46080 से कम और शहरी क्षेत्रों में 56640 से कम होनी चाहिए।
  • सरकार की तरफ से शादी में आर्थिक सहायता तभी दी जाएगी जब शादी करने वाली लड़की की उम्र कम से कम 18 वर्ष और लड़की की उम्र कम से कम 21 वर्ष हो।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए शादी से 90 दिन पहले तक या शादी के 90 दिन बाद तक ही आवेदन किया जाना चाहिए वरना आवेदन स्वीकार नही होगा।
  • योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक के पास आधार कार्ड, जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, आवेदक का पहचान पत्र, राष्ट्रीय बैंक में खाता, एक्टिव मोबाइल नंबर, आवेदक का शादी प्रमाण पत्र और पासपोर्ट साइज फोटो होनी चाहिए।

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना के लिए ऑनलाइन अप्लाई

हमने आपको पर उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना की पात्रता और योग्यता के बारे में बताया। अगर आप इस योजना के लिए एक पात्र आवेदक है तो आप योजना का लाभ उठाने के लिए ऑनलाइन अप्लाई भी कर सकते हो। Uttar Pradesh Vivah Anudan Yojana Online Apply के लिए आवेदन इस प्रकार करे :

  • सबसे पहले उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना की आधिकारिक वेबसाइट shadianudan.upsdc.gov.in पर जाएं।
  • वेबसाइट के होमेपज पर ही आपको जाती के अनुसार पंजीकरण का विकल्प दिखाई देगा। अपनी जाति के अनुसार पंजीकरण के विकल्प पर क्लिक करे।
  • नए पंजीकरण के विकल्प पर क्लिक करने के बाद एक फॉर्म ओपन होगा जिसमें आपको आवेदक का नाम ,आवेदक का आधार नंबर, बेटी की शादी की तिथि जैसी सामान्य जंनकरिया भरनी होगी और मांगे गए डाक्यूमेंट्स को अपलोड करे।
  • सटीक रूप से फॉर्म भरने और डॉक्युमेंट्स अपलोड करने के बाद आपको ‘जमा करें’ के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना के लिए आपका आवेदन सबमिट हो चुका है। अगर आप चाहो तो योजना के आधिकारिक पोर्टल पर जाकर अपने आवेदन की स्थिति चेक कर सकते हो।

आपको कोई शिकायत हो तो कमेटी कर सकते है.

Share with your Friends

Leave a Comment